Tuesday, September 15, 2015

हत्यारों का कोई दोष नहीं है गुसाई। भगवा हो गया इंद्रधनुष भी


हत्यारे वे हाथ नहीं होते जिसने बंदूक पकड़ी हो बम फोड़ा हो, असल हत्यारा वह दिमाग है, जिसने उसे हत्यारा बना दिया है।...उस हत्यारे का चेहरा सबसे...
--
Pl see my blogs;


Feel free -- and I request you -- to forward this newsletter to your lists and friends!